ऑन ग्रिड सोलर सिस्टम को ग्रिड-कनेक्टेड सोलर या ग्रिड-टाई सोलर सिस्टम भी कहते है. यदि ग्रिड कनेक्टेड सिस्टम खपत के मुताबिक ज्यादा बिजली बनाता है तो आप उसे नेट मीटरिंग के द्वारा सरकार को सप्लाई भी कर सकते हैं जिसे सरकार आपके अगले बिजली के बिल में एडजस्ट/कम करेगी ।

यदि आपके पास भरोसेमंद ग्रिड है (दिन के समय में 2 घंटे से कम समय तक बिजली की कटौती) और आप सिर्फ बिजली का बिल कम करना चाहते है, तो आपको ऑन ग्रिड सोलर सिस्टम लगाने की सलाह दी जाती है!